उत्तर प्रदेश

मुख्तार’ परिवार के अवैध निर्माण पर एलडीए वीसी की बेरुखी

मुख्तार बड़े भाई अफजाल की पत्नी के नाम दर्ज है अवैध निर्माण के खिलाफ एक्शन करने में एलडीए हिचक रहा है। जिस तेजी से मुख्तार के बेटों के नाम दर्ज अवैध निर्माण को ढहाया गया, उस तेजी से अब तक अफजाल की पत्नी के नाम वाले अवैध निर्माण पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। अभी तक नोटिस भी नहीं दी गई है। नोटिस देने के बाद सुनवाई की जाती है। जिसके बाद 14 दिन का वक्त देने के बाद ही ध्वस्तीकरण किया जा सकता है। ऐसे में इस मामले काे लटकाए जाने की कोशिश की जा रही है। दूसरी ओर इस बारे में एलडीए वीसी का कहना है कि जब वे कार्रवाई करेंगे तब जानकारी दे देंगे। अभी कुछ नहीं बता सकते हैं।

मुख्तार अंसारी के बड़े भाई अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी के नाम पर डालीबाग में किलानुमान मकान पहले बिना नक्शा पास करवाए ही बनवा लिया गया था। बनवाने के बाद रसूख औीर फर्जी कागजों की दम पर एलडीए से नक्शा भी पास करवाया गया। ये कंपाउंडिंग मैप साल 2007 में पास करवाया गया था। निर्माण पूरा होने पर कोई कार्रवाई न कर के नक्शा पास कर दिया गया था। गाटा संख्या 93 की सभी खातेदारी निरस्त होने के बाद एलडीए अब इस मानचित्र को निरस्त करने की तैयारी में लगा हुआ है। ये तैयारी फिलहाल जमीन पर नहीं उतर सकी है। केवल घोषणा तक ही सीमित है।अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी के नाम पर निष्क्रांत संपत्ति (आठ मार्च 1954 के बाद पाकिस्तान गए लोगों की संपत्ति जो कि अब सरकारी है।) गाटा संख्या 93 का तीसरा निर्माण है, जिस पर अभी तक कार्रवाई नहीं की है

पत्र किया जा रहा है तैयार

मुख्तार अंसारी की भाभी के नाम दर्ज मकान पर कार्रवाई करने को लेकर एक पत्र प्राधिकरण के प्रवर्तन जोन-6 में तैयार किया जा रहा है ये नोटिस है या कुछ और इसका खुलासा नहीं किया जा सका है। इस बाबत कोई भी प्राधिकरण अफसर अपना मुंह खाेलने के लिए राजी नहीं है। एलडीए वीसी शिवांकात द्विवेदी भी इस प्रकरण में गोलमोल जवाब ही दे रहे हैं।

Related Articles