धर्म

भगवान विष्णु की पूजा के साथ हुआ तुलसी विवाह

 

स्वतंत्रदेश ,लखनऊ :देवोत्थानी एकादशी पर बुधवार को एक ओर जहां शालिग्राम से मां तुलसी के विवाह की परंपरा का निर्वहन किया गया तो दूसरी ओर भागवा विष्णु की पूजा अर्चना की गई। आशियाना परिवार की ओर से द्ववेदी पार्क के तुलसी वाटिका में तुलसी विवाह आयोजन किया गया। आशियाना परिवार के अध्यक्ष आरडी द्ववेदी के संयोजन में आयोजित समारोह में अंजू रघुवंशी, रमा द्विवेदी, नीलम शुक्ला, बीना अग्रवाल, प्रीति जैन व दीपा दीक्षित समेत कई महिलाएं प पदाधिकारी शामिल हुए।

मनकामेश्वर मंदिर की महंत देव्या गिरि के सानिध्य में पूजन किया गया। आचार्य एसएस नागपाल ने बताया कि कार्तिक शुक्ल एकादशी को देवोत्थानी एकादशी और प्रबोधिनी एकादशी भी कहते हैं। इस दिन चातुर्मास समाप्त होता है। इस दिन भगवान विष्णु जो क्षीर-सागर में सोए हुए थे, वो जागते हैं हरि के जागने के बाद से ही सभी मांगलिक कार्य शुरू किए जाते है। इस दिन भगवान विष्णु, मां लक्ष्मी और तुलसी की विशेष पूजा और व्रत किए जाते हैं।

 

Tags

Related Articles