उत्तर प्रदेशराज्य

इन रूट्स पर बढ़ाए गए ट्रेनों के फेरे

स्वतंत्रदेश,लखनऊ:  यदि आप दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ पर घर जाने का प्लान बना रहे हैं तो यह खबर आपके लिए खास है। रेलवे कोरोना काल में सभी स्वास्थ्य प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए चलाई जा रही ट्रेनों की संख्या में बढ़ोतरी करने जा रहा है। पिछले दिनों रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ वीके यादव ने बताया कि भारतीय रेल त्यौहारी सीजन में 15 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच 200 विशेष ट्रेनें चलाने की योजना बना रही है।

दुर्गा पूजा दशहरा दिवाली और छठ पर घर जाने का प्लान बना रहे हैं तो यह खबर आपके लिए खास है।

त्योहारी सीजन को देखते हुए भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने कुछ स्पेशलों ट्रेनों के फेरे (आने-जाने) (Indian Railway Special Train) को बढ़ा दिए हैं। रेलवे ने यात्रियों की बढ़ती संख्या और आगे आने वाले बड़े त्योहारों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला किया है। रेलवे के इस ऐलान से झारखंड, बिहार और बंगाल में रहने वाले लोगों को लाभ मिलेगा।

भारतीय रेलवे ने पूर्वा एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन के फेरे बढ़ाए हैं। इसकी जानकारी देते हुए ईस्टर्न रेलवे (Eastern Railway) ने ट्रेनों की लिस्ट भी जारी की है। जिसमें ट्रेनों के रूट, समय सारिणी की जानकारी दी गई है।

 

भारतीय रेलवे ने पूर्वा एक्सप्रेस के फेरों में बढ़ोतरी की है। ये ट्रेनें दिल्ली से हावड़ा (Delhi to Howrah Train) के बीच चलती हैं। जो पटना और धनबाद होते हुए अपने गंतव्य (Delhi To Patna Train) तक पहुंचती हैं। आइए जानते हैं किन ट्रेनों के फेरे बढ़ाए गए हैं। दक्षिण पूर्व रेलवे ने रेलवे बोर्ड को 41 मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने का प्रस्ताव भेजा है। इन 41 ट्रेनों की सूची में झारखंड के तीन स्टेशनों से खुलने वाली कुल 20 ट्रेनें शामिल हैं।

स्थानीय प्रशासन से बातचीत कर कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति की समीक्षा करें। उनसे रिपोर्ट मांगी गयी है और इसी आधार पर फैसला होगा कि त्योहारी सीजन में कितनी विशेष ट्रेनें चलायी जाएं। फिलहाल हमारा अनुमान है कि करीब 200 ट्रेनें चलेंगी, लेकिन यह हमारा अनुमान है, संख्या और ज्यादा भी हो सकती है।यादव ने कहा कि रेलवे ने राज्य सरकारों की जरुरतों और महामारी के हालात को देखते हुए यात्री सुविधाओं की रोज समीक्षा करने का फैसला लिया है. जहां तक यात्री ट्रेनों की बात है, हम ट्रेनों की जरुरत, यातायात और कोविड-19 के हालात की रोज समीक्षा करेंगे। जहां भी जरुरत होगी, हम ट्रेनें चलाएंगे।

Tags

Related Articles