कारोबार

तनिष्क का ऐड विवादों में

स्वतंत्रदेश , लखनऊ :टाटा ग्रुप का मशहूर ज्वेलरी ब्रांड तनिष्क अपने नए विज्ञापन के चलते विवादों में है। ब्रांड को सोशल मीडिया पर बुरी तरह से लोगों के गुस्सा का शिकार होना पड़ रहा है। दरअसल, फेस्टिव सीजन करीब है। ऐसे में तनिष्क ने अपने प्रमोशन के लिए नया विज्ञापन जारी किया है। इस विज्ञापन का प्लॉट इंटरकास्ट मैरिज पर आधारित है।

विज्ञापन में एक हिंदू लड़की की मुस्लिम लड़के से शादी दिखाई गई है। इसके बाद से ट्विटर पर तनिष्क को ट्रोल करना जारी है। ट्विटर पर #BoycottTanishq के साथ ज्वेलरी ब्रांड का विरोध किया जा रहा है। इस संबंध में भास्कर ने तनिष्क से बात करने की कोशिश की, लेकिन उनकी तरफ से कोई बयान नहीं दिया गया। हालांकि, विवाद बढ़ने के बाद तनिष्क ने वीडियो को यूट्यूब चैनल से हटा दिया है।

तनिष्क ने अपने फेस्टिव सीजन के प्रमोशनल एड का नाम ‘एकत्वम’ रखा है।

क्या है इस विज्ञापन में ?

तनिष्क के इस प्रमोशनल ऐड में एक हिंदू लड़की को मुस्लिम फैमिली की बहू के रूप में दिखाया गया है। हिंदू लड़की की मुस्लिम के घर में शादी हुई है और उसकी गोदभराई यानी बेबी शावर के फंक्शन को दिखाया गया है। इसमें हिंदू कल्चर को ध्यान में रखते हुए मुस्लिम फैमिली सभी तरह के रस्मो-रिवाज हिंदू धर्म के हिसाब से करती है।

विज्ञापन के अंत में वह प्रेग्नेंट महिला अपनी सास से पूछती है, “मां ये रस्म तो आपके घर में होती भी नहीं है न?” इस पर उसकी सास जवाब देती है, “पर बिटिया को खुश रखने की रस्म तो हर घर में होती है न?” वीडियो में हिंदू-मुस्लिम परिवार को एकजुट दिखाने की कोशिश की गई है

क्या जाति धर्म को सामने लाना अनिवार्य है? इतना ही नहीं एक यूजर ने लिखा है कि आखिर हम हर जगह एक हिंदू बहू ही क्यों देखते हैं। क्या मुस्लिम बहू कहीं दिखाई जाती है? वहीं ‘एकत्वम’ के नाम से तैयार किए गए इस विज्ञापन पर आपत्ति जताते हुए कई यूजर्स ने इसे लव-जिहाद को बढ़ावा देने वाला करार दिया। ट्विटर पर तनिष्क के खिलाफ मुहिम शुरू हो गई और लोग तनिष्क के गहने न खरीदने की बात करते हुए इसे बायकॉट करने की मांग करने लगे।

शशि थरूर ने जताई नाराजगी

तनिष्क के इस विज्ञापन के विरोध पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने नाराजगी जताई है। उन्होंने ट्वीट किया, हिंदुत्व ब्रिगेड ने हिंदू-मुस्लिम एकता को खूबसूरती से दिखाने वाले इस ऐड के चलते तनिष्क का बायकॉट करने की मांग की है। अगर हिंदू-मुस्लिम के एकत्वम से उन्हें इतनी दिक्कत है तो वे पूरी दुनिया में हिंदू-मुस्लिम की एकता के प्रतीक भारत का बायकॉट क्यों नहीं कर देते।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *