उत्तर प्रदेशराज्य

बुलंदशहर में मुठभेड़ तीन कार लुटेरे गिरफ्तार

पुलिस की सक्रियता रंग लाने लगी है। बुलंदशहर में पुलिस ने मुठभेड़ के बाद तीन कार लुटेरों को गिरफ्तार किया है। 

पुलिस के मुताबिक इन्होंने 26जुलाई को दिल्ली से कार बुक करके कार लूटी और ड्राइवर को अधमरा करके फेंक दिया था। एसएसपी बुलंदशहर ने बताया कि बीती रात जब यह तीनों वही गाड़ी लेकर दिल्ली जा रहे थे तो मुठभेड़ में इन्हेंं पकड़ा गया। दिल्ली के आनंद विहार से एक ईको कार को बुक करके लूट करने वाले तीन बदमाशों को देहात कोतवाली पुलिस की सर्विलांस टीम ने गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपित शाहजहांपुर के रहने वाले हैं। सितंबर माह में तीनों युवक दिल्ली एनसीआर में नौकरी की तलाश में आए थे। नौकरी नहीं मिली तो उन्होंने लूटपाट करने की योजना बनाई। पहली बार लूट की और अब पकड़े गए। तीनों को पुलिस ने जेल भेज दिया है।

हरियाणा के नारनौल के गांव चीमा निवासी राहुल कुमार छह सितंबर को एयरपोर्ट दिल्ली पर कुछ सवारियों को छोडऩे के लिए आया था। जब वह वापस लौट रहा था तो कुछ देर के लिए आनंद विहार में रुक गया। यहां पर उसे तीन युवक मिले और उन्होंने उसे बुलंदशहर चलने की बात कही। तीन हजार रुपये में कार को बुक कर लिया गया। जिस समय आरोपित देहात कोतवाली क्षेत्र की नईमंडी चौकी क्षेत्र में पहुंचे तो तीनों बदमाशों ने शौच करने के बहाने कार को रुकवाया और चालक राहुल को बंधक बनाकर कार लूटकर फरार हो गए। इस मामले में देहात कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया। देहात कोतवाली की सर्विलांस टीम में तैनात सिपाही कपिल कुमार ने एक नंबर के जरिए तीनों बदमाशों को पकड़ा है। एसएसपी ने सर्विलांस टीम को 20 हजार का नकद ईनाम दिया है।

यह है लूट करने वाले बदमाश

ओमेंद्र पुत्र सत्यपाल सिंह, मान सिंह पुत्र रंभू सिंह निवासीगण गांव माली थाना कलान जनपद शाहजहांपुर और लईक पुत्र अजीज निवासी गांव गुनारा थाना जलालाबाद शाहजहांपुर को गिरफ्तार किया गया है। तीनों ने बताया कि वह नौकरी की तलाश में आए थे, लेकिन लूट की योजना बना ली।

देहात कोतवाली पुलिस ने आनंद विहार से बीटीएस उठाया। इसके बाद घटनास्थल से बीटीएस उठाया। एक नंबर के आधार पर पता चला कि कार बदायूं तक गई है। यहां से एक सीसीटीवी की फुटेज कब्जे में ली गई। जिसके बाद आरोपितों के बारे में पता चला कि शाहजहांपुर के रहने वाले हैं।  

Related Articles