राजनीतिराज्य

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन सीएम योगी ने जताया शोक

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का सोमवार को निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे और दिल्ली के अस्पताल में भर्ती थे। पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन की खबर से उत्तर प्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई। अपने व्यक्तित्व से सभी को प्रभावित करने वाले विद्वान अर्थशास्त्री और राजनेता मुखर्जी को श्रद्धांजलि देते हुए उनके निधन को राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति बताया। भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन पर उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव समेत प्रमुख हस्तियों ने शोक व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी एक वरिष्ठ एवं अनुभवी राजनेता थे। राष्ट्र के प्रति उनकी सेवाओं के दृष्टिगत उन्हें देश का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न प्रदान किया गया था। वह एक सौम्य और मृदुभाषी नेता थे, जिनका सभी सम्मान करते थे। सीएम योगी ने अपने शोक संदेश में ट्वीट कर कहा कि पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न प्रणब मुखर्जी का निधन राष्ट्र की अपूरणीय क्षति है। वह सार्वजनिक जीवन में शुचिता, पारदर्शिता एवं स्पष्टवादिता की प्रतिमूर्ति थे। सीएम योगी ने परिवारीजन के प्रति संवेदनाएं व्यर्त करते हुए कहा कि ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने परमधाम में स्थान दें।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने ट्वीट कर अपने शोक संदेश में कहा कि देश की जानी-मानी राजनीतिक हस्तियों में एक पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के इलाज के दौरान निधन की खबर अति दुखद है। उनके शोक संतप्त परिवार और समर्थकों के प्रति गहरी संवेदना। सौम्य व सभ्य स्वभाव के प्रणब मुखर्जी के लम्बे राजनीतिक जीवन व देशसेवा समर्पन को हमेशा याद किया जाता रहेगा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी ट्वीट कर भूतपूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणब मुखर्जी को भावभीनी श्रद्धांजली दी। उन्होंने कहा कि भारत की राजनीति ने आज एक सच्चा रत्न खोया है।

Related Articles