उत्तर प्रदेशलखनऊ

विश्व मलेरिया दिवस, 11 लोग मिले मलेरिया से ग्रसित

स्वतंत्रदेश, लखनऊ:विश्व मलेरिया दिवस पर फर्रुखाबाद जिले में विभिन्न शिक्षण संस्थानों व सार्वजनिक स्थानों पर लोगों को मलेरिया और डेंगू के बारे में जागरूक किया जाएगा। यह कहना है संचारी रोग के नोडल डॉ. यू सी वर्मा का। डॉ. वर्मा ने बताया कि 25 अप्रैल को विश्व मलेरिया दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य लोगों को मलेरिया के बारे में जागरूक करना और इस बारे में सतर्क रहने की सलाह देना है कि वह मलेरिया की चपेट में आने से बचे रहें।

11 लोग मिले मलेरिया से ग्रसित

11 लोग हुए मलेरिया का शिकार
मलेरिया इंस्पेक्टर नरजीत कटियार ने बताया, 1 जनवरी 2021 से दिसंबर 2021 तक लगभग 28,316 लोगों के रक्त के नमूने लिए गए, जिसमें से 155 लोग मलेरिया से और 30 लोग डेंगू से ग्रसित मिले।

मलेरिया के लक्षण

  1. संक्रमित व्यक्ति को तेज सिर दर्द होता है।
  2. उसे उल्टी या मन मचलाना जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।
  3. तेज बुखार आता है।
  4. ठंड लगकर या फिर कंपकंपी के साथ बुखार आता है।
  5. बुखार लंबे समय तक बना रहता है।
  6. थोड़ी-थोड़ी देर पर प्यास लगती है।
  7. हाथ और पैर में ऐंठन बनी रहती है।
  8. थकान और कमजोरी महसूस होती है।
  9. घबराहट और बेचैनी जैसा अनुभव होता है।
  10. बहुत ज्यादा ठंड लगती है।

मलेरिया से बचने के उपाय

  1. अपने आसपास कहीं पर भी पानी ना इकट्ठा होने दें।
  2. बारिश होने से पहले घर की छत पर पड़े टायर या फिर गमलों को पूरी तरह से ढक दें, ताकि उनमें पानी इकट्ठा न हो पाए।
  3. कूलर के पानी को नियमित रूप से बदलते रहें।
  4. घर के फर्श और आसपास की जगह को फिनॉयल जैसे कीटाणुनाशक से साफ करते रहें।
  5. अगर आप किसी ऐसे क्षेत्र में रह रहे हैं, जहां पर बहुत ज्यादा मच्छर हैं तो रात को सोते समय मच्छर मारने वाली क्वाइल या फिर मच्छरदानी लगाकर सोएं।
  6. बारिश के दिनों में ऐसे कपड़े पहनें, जिससे हाथ और पैर पूरी तरह से ढके रहें ताकि मच्छर आपको न काटें।

Related Articles