उत्तर प्रदेशराज्य

पानी के तेज बहाव की चपेट में आकर वाहन यमुना नदी में डूबे

भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा में शुक्रवार शाम को तेज बारिश कहर बन गई। महज एक घंटे की बारिश में ही सड़कों पर सैलाब की तरह बहने लगा। इसी दौरान ढलान पर खड़ी एक कार के साथ ही दो एक्टिवा, चार बाइक तथा एक रिक्शा भी यमुना नदी में जाते तेज बहाव के पानी की चपेट में आ गए। कार सवार ने किसी तरह से कूदकर अपनी जान बचा ली। सभी वाहन युमना नदी में समा गए।

मथुरा में शुक्रवार शाम करीब एक घंटा की मूसलाधार बरसात के दौरान शहर में एकत्र पानी में तेज बहाव आ गया। गलियों के तेज बहाव वाली छोटी नहर का रूप लेने के कारण एक कार तेज बहाव में बह गई। उसमें सवार ने छलांग लगाकर किसी तरह से अपनी जान बचाई। लाख कोशिशों के बाद भी जब वह कार को बहाव से नहीं निकाल पाया तो उसने अपनी जान बचाने के लिए पानी के तेज बहाव में ही छलांग लगा दी।

एक व्यक्ति अपनी कार से शाम के समय किसी संवासिनी को नारी निकेतन छोड़कर वापस लौट रहा था। इसी बीच उसकी कार पानी के तेज बहाव में फंस गई। कार बहने लगी। उसकी लाख कोशिशों के बाद भी जब वह कार को बहाव से नहीं निकाल पाया तो उसने अपनी जान बचाने के लिए पानी के तेज बहाव में ही छलांग लगा दी। इसके साथ ही गली में खड़ी दो एक्टिवा के साथ चार बाइक तथा एक रिक्शा भी बहाव की चपेट में आ गया। सभी वाहन सीधा यमुना नदी में समा गये।

इस संबंध में चीफ फायर ऑफिसर प्रमोद कुमार शर्मा ने कहा कि घटना शाम की है। कंट्रोल रूम को जानकारी मिली कि एक ऑल्टो कार और दो बाइक पानी के तेज बहाव की जद में आकर यमुना नदी में बह गई हैं। उन्होंने कहा कि जनहानि की कोई सूचना नहीं है। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। गोताखोरों की मदद से नदी में वाहनों की तलाश की जा रही है। मथुरा में स्वामी घाट वह इलाका है, जहां बारिश के बाद पानी का बहाव हमेशा ही बहुत तेज रहता है। स्वामी घाट इलाके से पानी सीधे यमुना में जाता है। 

Related Articles