उत्तर प्रदेशधर्म

अयोध्‍या में राममंदिर के परकोटे में दिखेंगे पांच और भव्य मंदिर

राममंदिर के रूप में एक नए युग के आरंभ को नई गति मिल गई है। राममंदिर का मानचित्र स्वीकृत होने के साथ ही जन्मभूमि पर रामलला के भव्य मंदिर निर्माण की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है।

मंदिर परिसर में रामलला के साथ ही पांच अन्य मंदिरों का भी निर्माण कराया जाएगा। यह मंदिर राममंदिर के परकोटे के चारों दिशाओं में होंगे। माना जा रहा है कि इनमें माता सीता, राम भक्त हनुमान, भगवान गणेश सहित उन देवी-देवताओं के विग्रह को स्थान मिलेगा, जिनके प्राचीन मंदिर वर्तमान में मंदिर निर्माण की चल रही प्रक्रिया के तहत हटाए जा रहे हैं।

यह नई योजना बुधवार को राम मंदिर का मानचित्र प्रस्तुत करने के दौरान सामने आई है। हालांकि इसे गोपनीय रखा जा रहा है, लेकिन विश्वस्त सूत्रों की मानें तो प्रस्तुत मानचित्र में दर्शाए गए मंदिर के परकोटे में इन मंदिरों की स्थापना तय मानी जा रही है। इसकी रूपरेखा कैसी होगी इसका निर्णय श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को लेना है।

27158 वर्गमीटर का होगा हरित क्षेत्र

राममंदिर में 27158 वर्गमीटर क्षेत्र हरित क्षेत्र होगा, जिसमें उद्यान विकसित किया जाएगा। उद्यान में देव और औषधीय वृक्ष होंगे। 

5888 वर्गमीटर की होगी पार्किंग

मंदिर परिसर में 5888 वर्गमीटर की वृहद पार्किंग भी प्रस्तावित की गई है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *