उत्तर प्रदेशजीवनशैली

आबादी के अंदर खुले में रखे ट्रांसफार्मर..हादसों का है बुलावा

बिजली विभाग की मनमानी लोगों के लिए समस्या बनती जा रही है। जिले में विद्युत सुरक्षा गाइड लाइन की अनदेखी कर ट्रांसफार्मरों को मनचाही जगह पर लगा दिया गया है और उनके चारों ओर जाली भी नहीं लगाई गई है और तो और चौराहों पर भी खुले ट्रांसफार्मर लगे हुए हैं। पूरे जिले में यही दशा है, इससे आए दिन हादसे होते रहते हैं। मगर जिम्मेदार स्थान की कमी बता कर पल्ला झाड़ रहे हैं।

लखनऊ-हरदोई मार्ग पर विधायक राज कुमार अग्रवाल के आवास के सामने खुले में रखा ट्रांसफार्मर रखा है। प्राथमिक विद्यालय पतसेनी देहात के निकट खुले में ट्रांसफॉर्मर रखा है। बिलग्राम नगर पालिका कार्यालय के निकट खुले में ट्रांसफार्मर रखा है। पचदेवरा क्षेत्र के अनंगपुर में खुले में ट्रांसफार्मर लगा है।

संडीला :नगर के मुहल्ला गढ़ी में ट्रांसफार्मर सड़क से सट कर जमीन पर रखा गया है। शक्तिनगर में 250 केवीए का ट्रांसफार्मर भी बिना किसी सुरक्षा जाली के लगा है। बस स्टैंड पर बिना बैरिकेडिंग के ट्रांसफार्मर लगा है।

विद्युत सुरक्षा गाइड लाइन में ट्रांसफार्मरों के लगाने के निर्देश जारी किए गए है। जिसमें बिजली ट्रांसफार्मर को लगाते समय यह ध्यान रखा जाए कि वह सड़क से दूर हो और उसके लगने से लोगों को असुविधा न हो और उसके चारों ओर सुरक्षा जाली लगाई जाए। ताकि बच्चे और जानवर उनके पास न पहुंच सकें। मगर जिले में विभाग की ओर से मनमाने तरीके से ट्रांसफार्मर लगा दिए गए हैं। जो हादसे को दावत दे रहे हैं। सवायजपुर बस अड्डे पर तो दुकानों के बाहर ही खुला ट्रांसफार्मर लगा है। माधौगंज नगर के सदर बाजार के मुख्य चौराहा, श्री नरपतसिंह इंटर कालेज के पास खुले में ट्रासफार्मर लगा है। इसके अलावा तिकोनिया पार्क, बैक आफ बड़ौदा के पास भी खुले में ट्रांसफार्मर रखा है। प्रताप नगर मार्ग पर बघौली कस्बा में खोया मंडी व इलाहाबाद बैंक के पास खुले में ट्रांसफार्मर रखा है।

Related Articles