उत्तर प्रदेशधर्म

अयोध्या राम मंदिर निर्माण की तैयारी

राम मंदिर निर्माण समिति की दिल्ली बैठक से लौटे श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय ने कहा कि अब हम इस स्थिति में आ गए हैं कि राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए अखबारों में विज्ञापन देकर लोगों से दान देने की अपील कर सकें।

उन्होंने कहा कि देश की सभी भाषाओं में चौथाई पेज का विज्ञापन दिया जाएगा। इसमें अपील की जाएगी कि लोग डोनेट करें। विज्ञापन में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का बैंक अकाउंट, बारकोड, इसका आईएफएससी कोड और बैंक खाते के सारे विवरण दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए नक्शे को अयोध्या विकास प्राधिकरण से पूरा शुल्क जमा कर पास कराने के लिए प्रक्रिया चल रही है।

अभी मंदिर स्थल से सटे हुए उन मंदिरों को गिराया जा रहा है, जो एल एंड टी की मशीनों के काम करने में बाधक बन रहे हैं। इनमें चार मंदिर और मानस भवन का कुछ हिस्सा आ रहा है। इनको एक-एक कर हटाया जाएगा। इसमें रखी हुई मूर्तियां सुरक्षित रख दी जाएगी। जब भव्य राम मंदिर बन जाएगा तो मंदिर परिसर में उसके किनारे कई छोटे-छोटे मंदिर भी बनेगें, जिनमें इन प्राचीन मंदिरों की मूर्तियों को स्थापित कर दिया जाएगा।

  • विज्ञापन में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के बैंक खाते की जानकारी दी जाएगी
  • अभी मंदिर के नक्शे को अयोध्या विकास प्राधिकरण से पास कराने की प्रक्रिया चल रही है

मंदिर की सुरक्षा का दायित्व सरकार ही उठाएगी

उन्होंने कहा सरकार इसकी सुरक्षा को लेकर अपना प्रदान तैयार करेंगी। मंदिर निर्माण के लिए दान में आने वाली तांबे की प्लेटों के बारे में उन्होंने कहा कि फिलहाल तांबे की प्लेटों की जरूरत नहीं है ।इनकी जरूरत साल डेढ़ साल के बाद ही पड़ेगी ।इसलिए तांबे की पट्टियों को स्वीकार नहीं किया जा रहा है। बल्कि इसको सरकारी एजेंसी से एक ही आकार की बनवा कर खरीदने की व्यवस्था की जाएगी । एनआरआई से मंदिर के लिए दान लेने के बारे में उन्होंने फिलहाल इनकार किया।राय ने कहा कि अभी अपने देश के लोगों में मंदिर को लेकर दान की उत्तेजना पैदा करने की जरूरत है ।हमें भरोसा है की मंदिर लिए पूरा धन हमारे देश के लोगों से ही प्राप्त हो जाएगा।

Related Articles