उत्तर प्रदेशराज्य

केजीएमयू में शुल्क पीजीआई से महंगा

स्वतंत्रदेश,लखनऊ:खून में क्रिएटिन एंजाइम का पता लगाने के लिए होने वाले सीके टोटल टेस्ट के लिए केजीएमयू में 250 रुपये फीस ली जाती थी, जिसे अब कम करके 230 रुपये कर दिया गया है। हालांकि, पीजीआई में यह जांच 55 रुपये में ही हो जाती है।

केजीएमयू में पीजीआई के मुकाबले चार गुना ज्यादा जांच शुल्क लिया जा रहा है। संस्थान को सरकारी अनुदान मिलने के बाद भी टेस्ट महंगे हैं।

केस 2- आमतौर पर हार्ट अटैक का पता लगाने के लिए होने वाले सीके एमबी टेस्ट के लिए केजीएमयू में कई सालों से 250 रुपये लिए जाते थे। अब इसकी फीस 230 रुपये कर दी गई है। इसका आधार पीजीआई की कीमतें थीं। हालांकि, वहां इसकी फीस अभी भी 80 रुपये ही है।

केस 3- पथरी, पेट में छाले, बुखार, उल्टी, पीलिया, पित्त की थैली की सेरम एमाइलेज जांच होती है। केजीएमयू में इसकी फीस 250 से अब 200 रुपये कर दी गई है। वहीं, पीजीआई में इस टेस्ट के वही एजेंसी 50 रुपये लेती है।

कुछ अन्य जांचों की कीमतें

टेस्ट – पीजीआई में फीस- केजीएमयू में फीस पहले- फीस अब
सी 3- 165 रुपये- 320 रुपये- 300 रुपये
कॉर्डिओलिपिन आईजीएच- 330 रुपये- 775 रुपये- 700 रुपये
कॉर्डिओलिपिन आईजीएम- 330 रुपये- 775 रुपये- 700 रुपये
डी-डाइमर- 330 रुपये- 500 रुपये- 450 रुपये

ग्लायकोस्लेटेड हीमोग्लोबिन- 165 रुपये- 400 रुपये- 360 रुपये
ग्रोथ हॉर्मोन- 325- 800 रुपये- 760 रुपये
आईजीए- 165 रुपये- 300 रुपये- 280 रुपये

आईजीजी- 165 रुपये- 300 रुपये- 280 रुपये
प्लाज्मा रेनिन- 500 रुपये- 900 रुपये- 850 रुपये
टैक्रोलिमस- 880 रुपये- 1100 रुपये- 1050 रुपये

Related Articles