उत्तर प्रदेशराज्य

सर्वाधिक प्रभावित कोविड -19 से 16 जिलों में नोडल अफसर तैनात

स्वतंत्रदेश,लखनऊ | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश के जिन 16 जिलों में पिछले एक सप्ताह के दौरान प्रतिदिन 100 या उससे अधिक कोविड-19 के मामले मिले हैं, उनमें संक्रमण को प्रभावी रूप से नियंत्रित किया जाए। कोविड नियंत्रण के लिए इन जिलों में अपर मुख्य सचिव व प्रमुख सचिव स्तर के 16 नोडल अधिकारियों की तैनाती की गई है। यह अधिकारी संबंधित जिले में पहुंचकर ठोस रणनीति व व्यवस्थित कार्ययोजना बनाते हुए 27 सितंबर तक अपने जिले के बारे में रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।

कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित 16 जिलों में नोडल अफसर तैनात, सीएम योगी को देंगे रिपोर्ट

16 नोडल अधिकारियों के सहयोग के लिए विशेष सचिव स्तर के अधिकारी के अलावा चिकित्सा शिक्षा तथा स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञ भी इस टीम में मौजूद होंगे। वरिष्ठ नोडल अधिकारी सोमवार तक मुख्यालय वापस आएंगे। विशेष सचिव स्तर के अधिकारी एक सप्ताह तक संबंधित जिले में कैम्प करेंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय भी इन अधिकारियों के फीडबैक तथा अन्य समाधान के लिए जुड़ा रहेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर 16 जिलों में तैनात किए गए नोडल अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति भी कोविड संक्रमित पाए जाने पर 10 से 15 लोगों की 48 घंटों के भीतर कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जाए। इससे संक्रमण की दर को नियंत्रित किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण पाए जाने पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया जाए। उस जोन के तहत शत-प्रतिशत टेस्टिंग सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रोजाना एक-तिहाई टेस्ट आरटीपीसीआर पद्धति से किए जाने का निर्देश दिया। योगी ने कहा कि कोविड-19 के नियंत्रण को लेकर गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद में अच्छा कार्य हुआ है। इन जिलों में अपनायी गई कार्ययोजना का अध्ययन करते हुए रणनीति बनायी जाए।

 

Tags

Related Articles