उत्तर प्रदेशराज्य

दो दरोगा व आरक्षियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज

स्वतंत्रदेश, लखनऊ |पुलिस हिरासत में हुई युवक की मौत के मामले में तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक समेत दो दरोगा व आरक्षियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ है। पूरे बैजू मजरे बेहटा कलां निवासी मोहित को लालगंज पुलिस बाइक चोरी के मामले में पूछताछ के लिए पकड़ कर लालगंज कोतवाली आई थी। जिसकी अचानक तबीयत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसकी मौत हो गई थी।

रायबरेली में पुलिस हिरासत में युवक की मौत के मामले में तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक समेत चार पर मुकदमा दर्ज।

परिजनों का आरोप था कि मोहित को पुलिस ने जमकर पीटा जिससे उसे गंभीर चोटें आई थी। इन्हीं चोटों के चलते मोहित की मौत हुई है। परिजनों के हंगामे के बाद तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक हरिशंकर प्रजापति,दरोगा अरविंद मौर्य, जय प्रकाश यादव को लाइन हाजिर कर दिया गया था। तत्कालीन पुलिस अधीक्षक ने मृतक के परिवार जन को 500000 रुपये की सरकारी सहायता तथा 500000 रुपये की पुलिसकर्मियों की तरफ से सहायता दिलाने का आश्वासन दिया था। इसी आश्वासन के बाद मृतक का अंतिम संस्कार जिला मुख्यालय पर ही करा दिया गया था। इसी मामले में लालगंज कोतवाली में गुपचुप तरीके से तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक हरिशंकर प्रजापति, जयप्रकाश यादव व अरविंद मौर्य के विरुद्ध हत्या की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

हालांकि इस बाबत लालगंज पुलिस कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। क्षेत्राधिकारी इंद्रपाल सिंह का कहना है की मुकदमें के विषय में कुछ नहीं जानते। उधर, इस संबंध में पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया है कि मुकदमा लिख लिया गया है। हालांकि पोस्टमार्टम में चोट लगने की बात नहीं आई। विवेचना में स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

 

Tags

Related Articles