Uncategorized

करोना मरीज के लिए बड़ा प्लाज़मा

लखनऊ में कोरोना मरीजों के लिए खुला देश का सबसे बड़ा प्लाज्मा बैंक…

उत्तर प्रदेश के पहले और देश के सबसे बड़े प्लाज्मा सेंटर में काम शुरू हो गया है. लखनऊ के केजीएमयू में इस सेंटर की शुरुआत की गई है. लखनऊ में कोरोना मरीजों के लिए बना यह सेंटर देश का पांचवा प्लाज्मा सेंटर है. इसके अलावा दिल्ली और चंडीगढ़ में दो-दो सेंटर पहले से काम कर रहे हैं. यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इसका उद्घाटन किया है.

कोरोना से ठीक हो चुके मरीज डिस्चार्ज होने के 14 दिन बाद प्लाज्मा दे सकते हैं. ऐसे मरीजों की उम्र 18 वर्ष से 65 वर्ष के बीच होनी चाहिए. 14 दिन बाद दोबारा प्लाज्मा दान किया जा सकता है. एक बार में 500 एमएल प्लाज्मा निकाला जाता है. कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों में आईजीजी एंटीबॉडी बन जाती है. ऐसे में प्लाज्मा में मौजूद एंटीबॉडी को गंभीर मरीजों में चढ़ाया जाता है. यह एंटीबॉडी कोरोना वायरस के खिलाफ काम करती है. गंभीर मरीजों की जिंदगी बचाने में मददगार बनती है. कोरोना के इलाज में प्लाज्मा थेरेपी के परिणाम अच्छे मिल रहे हैं.

Related Articles