उत्तर प्रदेश

अब आजम खां की बहन की संपत्ति खंगाल रहा नगर निगम

पूर्व मंत्री आजम खां की बहन निकहत अफलाक का रिवर बैंक कॉलोनी स्थित आवास पर मिले जवाब के बाद नगर निगम उनकी संपत्ति खंगालने में जुट गया है। पूर्व मंत्री की बहन ने नगर निगम के नोटिस को भ्रामक और तथ्यविहीन बता दिया था। अब अभिलेखों में खंगाला जा रहा है कि निकहत की लखनऊ में कोई संपत्ति तो नहीं है। इसे आधार मानकर नगर निगम रिवर बैंक कालोनी में आवंटित आवास को निरस्त कर सकेगा। नगर निगम भी निकहत अफलाक के जवाब पर कानूनी सलाह ले रहा है।

नगर निगम के रेंट प्रभारी महातम यादव का कहना है कि निकहत अफलाक के जवाब का परीक्षण किया जा रहा है। अब नगर निगम के अभिलेखों में निकहत अफलाक की लखनऊ में संपत्ति का पता किया जा रहा है, जिससे भी आवास आवंटन निरस्त करने का आधार बनाया जा सके। इसके अलावा रामपुर से भी यह अभिलेख मांगे गए हैं कि जौहर मुस्लिम विवि में निकहत अफलाक किस पर पर तैनात हैं। हालांकि नगर निगम को उनके कोषाध्यक्ष होने की जानकारी मिली है।

यह है मामला

नगर निगम ने अपनी रिवर बैंक कॉलोनी में पूर्व मंत्री आजम खां की बहन को किराए पर दिए गए आवास का आवंटन निरस्त करने का नोटिस जारी किया था। नगर निगम नोटिस में यह आरोप लगाया था कि रामपुर में शिक्षिका पद से सेवानिवृत्त निकहत अफलाक अब रामपुर में अपने स्थायी आवास पर ही रहती हैं। निकहत को तत्कालीन नगर विकास मंत्री रहे आजम खान के कार्यकाल में वर्ष 2007 में रिवर बैंक कॉलोनी में भवन संख्या ए2/1 आवंटित किया गया था। पांच हजार वर्गफीट में बने इस आवास का किराया एक हजार प्रति माह निर्धारित किया गया था।

Related Articles