अन्तर्राष्ट्रीयउत्तर प्रदेशउत्तराखंडकारोबारखाना -खजानाखेलज़रा-हटकेजीवनशैलीजॉब्सदिल्लीधर्मबिहारब्रेकिंग न्यूज़मध्य प्रदेशमनोरंजनमहाराष्ट्रराजनीतिराज्यराष्ट्रीय

पुरुषों से ज्यादा आलसी महिलाएं, इन 4 बड़ी बीमारियों का रहता है उन्हें खतरा

2016 में भारत में शारीरिक श्रम कम करने वाली महिलाएं करीब 50 फीसदी थीं, जबकि पुरुषों के लिए यह आंकड़ा 25 फीसदी था.

हाल ही में हुई एक रिसर्च के मुताबिक भारत में 35 फीसदी से ज्यादा लोग शारीरिक श्रम करने में आलस करते हैं. यह विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) का आंकड़ा है. WHO के एक सर्वेक्षण के अनुसार, शारीरिक गतिविधियों में सक्रियता नहीं दिखाने के कारण इन लोगों को दिल की बीमारी के साथ-साथ कैंसर, डायबिटिज़ और मानसिक रोगों का खतरा बना रहता है.

इस रिसर्च में बताया गया है कि 2016 में भारत में शारीरिक श्रम कम करने वाली महिलाएं करीब 50 फीसदी थीं, जबकि पुरुषों के लिए यह आंकड़ा 25 फीसदी था.

दुनियाभर में तीन में से एक महिला पर्याप्त शारीरिक क्रियाकलाप नहीं करती है, जबकि पुरुषों के मामले में यह आंकड़ा चार में से एक है.

इन 7 वजहों से मां नहीं बन पाती कुछ महिलाएं

उच्च आय वाले देशों में शारीरिक श्रम कम करने वालों का आंकड़ा 37 फीसदी है, जबकि मध्यम आय वाले देशों में 26 फीसदी. वहीं, निम्न आय वाले देशों में यह आंकड़ा 16 फीसदी है.

शोधकर्ताओं के अनुसार, अगर यह प्रवृत्ति जारी रही तो कम शारीरिक क्रियाकलाप करनेवालों की तादाद 2025 तक घटाकर 10 फीसदी करने का लक्ष्य प्राप्त नहीं हो पाएगा.

शोध के प्रमुख लेखक रेगिना गुथोल्ड ने कहा, “दुनियाभर में अन्य प्रमुख स्वास्थ्य के खतरों की तरह शारीरिक क्रियाकलाप कम करने वालों के स्तर में कमी नहीं हो रही है.”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *